Year: 2024

पुराना बुखार लक्षण एवं उपचार

पुराना बुखार कारण शरीर में अंदरूनी कमजोरी या खराबी के कारण बुखार नहीं टूटता | पुराना बुखार लक्षण अवधि: जब बुखार तीन सप्ताह या उससे अधिक समय तक लगातार बना रहता है। तापमान: सामान्य शरीर तापमान 98.6°F से ऊपर का…

मेटाबॉलिज्म कम होने के लक्षण एवं इसे बढ़ाने के आयुर्वेदिक उपाय

मेटाबॉलिज्म क्या होता है? मेटाबॉलिज्म, जिसे चयापचय भी कहा जाता है, वह प्रक्रिया है जिससे हमारा शरीर खाने को ऊर्जा में बदलता है। इस प्रक्रिया के माध्यम से हमारा शरीर आवश्यक ऊर्जा प्राप्त करता है जो हमारे दैनिक कार्यों को…

जानिए खुलकर हँसने के स्वास्थ्य लाभ

प्रसन्नचित्त रहने से मन, मस्तिष्क तथा शरीर के अंग-प्रत्यंग अपना काम बखूबी करते हैं। खुलके हंसने से ल्यूब्रीकेटर की पूर्ति होती रहती है तथा उसमें जंग नहीं लगती है तथा शारीरिक एवं मानसिक परेशानियों से उबरना में मदद मिलती है…

जानिए कैसे ग्रीन टी (Green Tea) कैंसर होने के खतरे को कम करती है |

ग्रीन टी ल्यूकेमिया रिसर्च जर्नल में प्रकाशित रिपोर्ट से स्पष्ट होता है की क्रोनिक लिम्फोसाईटिक ल्यूकेमिया जो विशेष रूप से व्यस्क अवस्था में होने वाले ल्यूकेमिया होता है यह रक्त और अस्थि का कैंसर है जिसमें असामान्य श्वेत रक्त कोशिकायें…

असाध्य रोगों में कारगर मिट्टी की पट्टी – जानिए कैसे

पेट पर मिट्टी लगाने के फायदे कहने को तो साधारण सी चीज़ है किन्तु इसके गुण अपने आप में ही किसी संजीवनी से कम नहीं है | कभी अपने विचार किया है की सारी सब्जियों एवं फलों की उत्पत्ति तो…

पिप्पली के चूर्ण एवं तेल से करे हर्निया का उपचार – पढ़िए

हार्निया का उपचार करने के लिए पिप्पली (पिपली चूर्ण) का उपयोग एक अच्छे विकल्प के रूप में सिद्ध होगा, पिप्पली के रस में मौजूद एंटी-इन्फ्लेमेटरी और एंटी-ऑक्सिडेंट गुणों से परिपूर्ण है जो हार्निया के लक्षणों को कम करने और संतुलित…

अदरक (Ginger) से करे हर्निया का उपचार – जानिए कैसे

हर्निया में अदरक खाने के कुछ प्रमुख फायदे निम्नलिखित हैं: 1. पाचन को सुधारना: अदरक में मौजूद अनेक उपयोगी और पाचन शक्ति बढ़ाने वाले तत्व होते हैं, जो पाचन क्रिया को मजबूती प्रदान कर खाने को पचाने में सहायक है…

एलोवेरा/ग्वारपाठा का रस(Juice) पीने के फायदे in Hindi

एलोवेरा पौधे की कई प्राचीन औषधीय गुणों के कारण यह आधुनिक युग में भी एक महत्वपूर्ण स्वास्थ्य उपाय के रूप में माना जाता है। यह जीवनशैली सम्बंधित रोगों और समस्याओं के लिए एक सशक्त उपचार है। नीचे दिए गए हैं…

परहेज़ के साथ करे (Ulcerative Colitis) का इसबगोल से उपचार – जानिए

अल्सरेटिव कोलाइटिस का इलाज संभव है इसबगोल से – उल्सरेटिव कोलाइटिस (Ulcerative Colitis) बड़े आंत का रोग है जिसमें आंत की ऊपरी तिहाई भाग में सूजन और Ulcer (घाव) हो जाता है, जिससे रोगी को बड़ी समस्याएं होती हैं, जैसे…

त्रिफला खाने के फायदे – स्वास्थ्य लाभ (Triphala Eating Benefits in Hindi)

त्रिफला चूर्ण एक आयुर्वेदिक औषधि है जो भारतीय चिकित्सा पद्धति में महत्वपूर्ण स्थान रखती है। इसे संजीवनी बूटी के नाम से नवाजा जाता है | त्रिफला तीन प्रमुख फलों से मिलकर बनता है – आंवला हरड़ बहेड़ा आइए जानते है…

Back to top
प्याज खाने के फायदे (Benefits of eating onion in Hindi) तिल के तेल के फायदे इन हिंदी (Sesame Oil Benefits) तुलसी खाने के फायदे (Tulsi Eating Benefits in Hindi) शहतूत फल खाने के फायदे नींबू पानी पीने के फायदे हिंदी में