पेट का दुखना – जानिए पेट दर्द का देसी घरेलू अचूक उपाय

पेट दर्द का कारण

पेट में दर्द होने के अनेक कारण होते हैं | सामान्यतया पेट में दर्द भोजन ना पचने से होता हैं | ध्यान रखे अगर पेट में दर्द अधिक हो रहा हो तो रोगी को खाने को कुछ ना दे|

पढ़े :- साइटिका में क्या खाना चाहिए

पेट दर्द का घरेलू उपचार:-

  1. मेथी – दो चम्मच दाना मेथी में नमक मिलाकर सुबह-शाम दो बार गर्म पानी में फाँकी लेने से पेट दर्द ठीक हो जाता हैं| यह 10-15 दिन लें|
  2. सौंफ – सौंफ और सेंधा नमक मिलाकर पीसकर दो चम्मच गर्म पानी से फाँकी लें|
  3. काली मिर्च – काली मिर्च, हींग, सौंठ सामान मात्रा में पीसकर सुबह-शाम गर्म पानी से आधा चम्मच फाँकी लें
  4. नमक – एक गिलास पानी में आधा चम्मच नमक मिलाकर पीने से पेट-दर्द में लाभ होता है | गर्म पानी में नमक मिलाकर पीने से शरीर में व्याप्त अनावश्यक तत्त्व भी निकल जाते है
  5. इलायची छोटी – पेट दर्द में इलायची पीस कर शहद में मिलाकर चाटने से लाभ होता है|
  6. पानी – प्रातः एक गिलास गुनगुना पानी पीने से कब्ज़, बदहज़मी दूर होती है| इसमें नीबू निचोड़ कर लेने से पेट में सड़न, गैस दूर होती है| पेट दर्द दूर होता है
  7. अनार – अनार के दानों पर काली मिर्च और नमक डालकर चूसें| इससे पेट दर्द बंद हो जाता है | कम से कम 10 दिन लें|
  8. छाछ – पेट दर्द में छाछ संजीवनी का काम करती है|
  9. नीबू – 12 ग्राम नीबू का रस,6 ग्राम अदरक का रस और ग्राम शहद एक कप पानी में मिलाकर पीने से पेट दर्द ठीक होता है|
  10. अदरक – पीसी हुई सौंठ एक ग्राम और सेंधा नमक एक गिलास पानी में गर्म करके पीने से पेट दर्द कब्ज, अपच ठीक हो जाती है
  11. हरड़ – हरड़ का चूरन एक चम्मच गर्म पानी में फाँकी लेने से पेट का दर्द ठीक हो जाता है | यदि सप्ताह में दो बार इसी प्रकार हरड़ सेवन करें तो पेट का पाचन-संसथान ठीक रहता है
  12. अमरुद – पेट दर्द में अमरुद की कोमल पतियाँ पीस कर पानी में मिलाकर पीने से पेट दर्द में आराम मिलता है
  13. धनिया – दो चम्मच धनिया एक कप पानी में गर्म करके पीयें| बच्चे के पेट में दर्द, आँव, बदहज़मी हो तो एक चम्मच धनिया और चौथाई चम्मच सौंठ एक कप पानी में उबाल कर पीयें
  14. पुदीना – 3 ग्राम पुदीना, जीरा, हींग, काली मिर्च, नमक- इन सबको पीस कर गर्म पानी से लेने से पेट दर्द ठीक हो जाता है| सूखा पुदीना और चीनी समान मात्रा में मिलाकर दो चम्मच की फाँकी गर्म पानी मिलाकर पीने से पेट दर्द ठीक हो जाता है
  15. हींग – हींग को गरम पानी में घोलकर नाभि के आस-पास लेप करे तथा भुनी हुई हींग एक बाजरे के दाने के बराबर किसी चीज़ के साथ खिलायें| इससे पेट- दर्द में आराम होता है | यदि पेट-दर्द वायु रुकने से हो तो दो ग्राम हींग आधा किलो पानी में उबालें | चौथाई पानी रहने पर गरम-गरम पीला दें|
  16. मूली – मूली के रस में नमक और काली मिर्च डालकर पिलाने से पेट दर्द ठीक होता है |
  17. राई – राई को पानी में पीसकर, पेट पर मलमल का कपड़ा बिछाकर, लेप करें | दस मिनट बाद हटा दें | पेट-दर्द में आश्चर्यजनक लाभ होता है
  18. जीरा – जीरा पीसकर शहद के साथ चाटने से पेट-दर्द ठीक हो जाता है| जीरा तो चबा चबा कर 10 मिनट बाद पानी पी ले पेट का दर्द ठीक हो जाता है
  19. अजवाइन – (1) अजवाइन 2 ग्राम और नमक एक ग्राम गरम पानी से देने से पेट दर्द बंद हो जाता है| (2) 15 ग्राम अजवाइन, 5 ग्राम काला नमक और आधा ग्राम हींग – तीनों को पीसकर शीशी भर लें | पेट-दर्द होने पर आधा चम्मच दो बार गरम पानी से लें| (3 ) 2 चम्मच अजवाइन, आठ चम्मच जीरा, 2 चम्मच काला नमक-सब पीसकर कर शीशी में भर लें| एक गिलास पानी में दो चम्मच यह चूर्ण और नीबू निचोड़ कर मिला कर पियें| पेट दर्द में लाभ होगा
  20. तुलसी – तुलसी और अदरक के रस को सम भाग लेकर गरम करके पीने से पेट-दर्द में लाभ होता है | 12 ग्राम तुलसी का रस पीने से पेट की मरोड़ ठीक हो जाती है