दाँत दर्द का सटीक उपचार(Toothache home treatment)

दाँत दर्द:-

प्याज – दाँत में दर्द या मसूढ़ों में पीड़ा होने पर प्याज़ का टुकड़ा उस जगह रख देने से दर्द दूर हो जाता है।  प्याज चबाकर लुगदी दाँतो के पास रखें

लहसुन – दाँतों में छेद होकर काले हो गये हों, दर्द करते हों तो दो काली लहसुन को सेक कर दर्द वाले दाँतों में दबाकर रखें।  दर्द दूर हों जाएगा |

लौकी – लौकी या घीया 24 ग्राम, लहसुन 20 ग्राम दोनों को पीस कर एक किलो पानी में उबाले।  आधा पानी रह जाने पर छान कर कुल्ले करने से दाँत-दर्द ठीक हो जाता है।

सरसों का तेल – एक-दो बार सरसों का तेल एक नथुने से सूँघने पर दाँत का दर्द कुछ समय के लिए बंद हो जाता है।  सरसों का तेल, नींबू का रस, सेंधा नमक मिलकर मंजन करने से दाँत साफ होते है, दर्द और हिलना बंद होता है सरसों के तेल में नमक बहुत बारीक कपड़े में छान कर मिलकर मंजन करने से भी दाँत-दर्द, मसूड़े फूलना ठीक हो जाता है|

हींग – दाँतों में कीड़े लगे हों, दाँत में दर्द हो तो दर्द वाले दाँतों के नीचे हींग रखकर दाँतों से दबा लें, दर्द बंद हो जायेगा।

नमक – दाँत-दर्द होने पर गरम पानी में नमक डालकर कुल्ले करने से लाभ होता है।  दाँतों , मसूड़ों में दर्द हो तो बारीक पिसा हुआ सेंधा नमक मलने से लाभ होगा।  दाँत हिलता हो तो तिल के तेल में नमक पिसा हुआ मिलाकर मंजन करें

अजवाइन – हर प्रकार का दाँत का दर्द अजवाइन के प्रयोग से ठीक होता है।  आग पर अजवाइन डालकर दुखते हुआ दाँतों पर धूणी दें।  उबलते हुआ पानी में नमक और एक चम्मच पीसी हुई अजवाइन डालकर ढक कर रख दें।  पानी जब गुनगुना रहे तो इस पानी को मुँह में लेकर कुछ देर रोके, फिर कुल्ला थूक दें।  इस प्रकार कुल्ला करें।  अजवाइन का धुआँ और कुल्ला करने के बीच २ घंटे का अंतर रखें।  इस प्रकार दिन में तीन बार करने से दाँत का दर्द ठीक हो जाता है।

तुलसी – तुलसी का पानी और काली मिर्च की गोली बना लें।  इसे दुखते दाँत के नीचे दबाए रखने से दाँत – दर्द शान्त होता है

पुदीना – पीसे हुए पुदीना से मंजन करने से दाँत दर्द ठीक हो जाता है।

पानी – पहले दो मिनट गर्म पानी मुँह में रखें, फिर बुहत ठंडा पानी मुँह में रखें, इस प्रकार ४ बार करें।  गर्म पानी से शुरू करें ठण्डे से समाप्त करें। दर्द मिटने के बाद भी तीन दिन करें।  मसूड़े फूलते हो तो गर्म पानी से कुल्ला करें। गर्म पानी से कुल्ले करने से दाढ़-दाँत की पीड़ा ठीक हो जाती है।

नीबू – एक नीबू के चार टुकड़े करके ऊपर नमक डालकर एक बाद एक गर्म करके एक-एक टुकड़े को दुखते दाढ़-दाँत पर रख कर दबावे, इससे दर्द में लाभ होगा

आँवला – दाँत में कीड़े लगा हो, दर्द हो तो आंवले के रस में ज़रा सा कपूर मिलाकर दाँत पर लगावें।  दर्द दूर हो जायेगा

मिट्टी – साफ मिट्टी से नित्य तीन बार मंजन करने से दाँत-दर्द ठीक हो जाता है

लौंग – पाँच लौंग पर नीबू का रस निचोड़ कर, पीस कर दाँत पर मलने से दर्द दूर हो जाता है। ये दो बार मलें।  पाँच लौंग एक गिलास पानी में उबाल कर इससे नित्य तीन बार कुल्ले करने से दर्द ठीक हो जाता है।  दाँत में कीड़ा लगने पर लौंग को रखना या लौंग का तेल लगाना चाहिए।

नीम – नीम के पत्तों को पानी में उबाल कर कुल्ले करने से दाँतों का दर्द दूर हो जाता है

कपूर – दाँत दर्द हो तो दर्द वाले दाँत पर कपूर दबायें।  दाँत में छेद हो तो कपूर भर दें।  दर्द दूर होगा, कीड़े मर जायेंगे

हल्दी – हल्दी को आग में भूनकर पीस लें।  इसे दुखते दाँतों में मलने से दर्द दूर हो जाता है।  दाँतों के कीड़े मर जाते है।  केवल हल्दी से मंजन करने से दाँत-दर्द ठीक हो जाता है।  हल्दी का टुकड़ा दर्द वाले दाँत में दबायें रखने से दर्द कम हो जाता है